Kaavyanjali Ek Saprem Bhent............









 


 

पहाड़ से टूटकर
कुछ पत्थर
गिरे रोड पर
और अगले ही दिन
अखबारों के मुख पृष्ठ पर
चर्चे थे-
अवैध खनन और 
सरकार की लचीली फ़ॉरेस्ट नीति के .
माफियाओं और नेताओं  के आगे झुकती
बयूरोक्रेसी की रीति के .

लोगों ने भी  चाय की दुकानों में
बैठकर खूब परिचर्चा की
कुछ लोगों ने  तो नारे भी लगाये
और कुछ लोग मज़े मज़े में
सरकारी बस फूक आये .

ऐसे ही कुछ दिनों तक
होता  रहा हो हल्ला
और उसके बाद, अखबारों ने
मुख पृष्ठ बदल लिया
और लोगों ने करवट .


 

Updated: Mar-2011

Email : vishwas@kaavyanjali.com